एनआरसी पर बोले चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, कहा- यह महज एक दस्तावेज नहीं

नई दिल्ली। असम नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) के आलोचकों को सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने जवाब दिया है। चीफ जस्टिस ने कहा है कि एनआरसी महज कोई दस्तावेज नहीं है। इसमें 19 लाख या 40 लाख की बात नहीं है। यह लोगों के भविष्य का आधार दस्तावेज है। यह भविष्य का हमारा मूल दस्तावेज है, सीजेआई ने ये बयान रविवार को 'पोस्ट कॉलोनियल असम' किताब के विमोचन के मौके पर दिया। चीफ जस्टिस ने माना कि इसके आधार पर लोग भविष्य के दावों को आधार बना…

Read More