Chingari App के आगे फीकी पड़ी Tik Tok की चमक, लॉन्च होते ही 5 लाख लोगों ने किया डाउनलोड

Spread the love

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच पिछले काफी समय से तनाव का माहौल है। आपको बता दें कि भारत में चीनी एप टिक टॉक ( tik tok ) ( tiktok application ) को काफी पसंद किया जाता है लेकिन जब से भारत और चीन के बीच तनाव चल रहा है तभी से भारतीय यूजर्स चाइनीस एप्स को अपने स्मार्टफोन से डिलीट करने की मुहिम चला रहे हैं और इसी कड़ी में अब भारत में टिक टॉक को टक्कर देने के लिए चिंगारी ऐप ( Chingari ) ( Chingari app ) ( Chingari vs tik tok ) बनाया गया है। यह पूरी तरह से मेड इन इंडिया है। खास बात यह है कि लॉन्च होने के कुछ समय के भीतर ही इस ऐप को तकरीबन पांच लाख से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड कर लिया।

‘चिंगारी’ ऐप को लोग जबरदस्त तरीके से पसंद कर रहे हैं और ‌को महज 72 घंटे के भीतर 5 लाख डाउनलोड किया जा चुका है। चिंगारी ऐप के डेवलपर्स ने एक बयान में कहा कि चीनी उत्पादों के बहिष्कार के बीच देशभर में यूजर्स भारत में डेवलप ऐप को अपना रहे हैं। ऐप धीरे-धीरे लोकप्रियता हासिल कर रहा है।

आपको बता दें कि लगातार चीनी एप्स को लेकर खबर आती रहती हैं कि यह आपके स्मार्टफोन की सुरक्षित जानकारियों को चुरा लेते हैं और इन्हें चीन में भेजते हैं। हालांकि लंबे समय से चल रही इस मुहिम को अब जोर मिला है जब गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच गरमा गरमी का माहौल है।

इस ऐप को बनाने वाले विश्वात्मा नायक और सिद्धार्थ गौतम ने एक बयान में कहा कि पिछले 72 घंटों में हमारी ऐप के करीब पांच लाख डाउनलोड हुए। चिंगारी का परिवार धीरे-धीरे बढ़ रहा है। उन्होंने दावा किया कि गूगल प्ले स्टोर पर चिंगारी की मांग सबसे ऊपर बनी हुई है। यह मित्रो ऐप से आगे पहले ही निकल चुका है। मित्रो भी टिकटॉक की तरह शॉर्ट वीडियो ऐप का भारतीय संस्करण है।

नायक ने कहा कि कस्टमर्स का रिस्पांस काफी शानदार है। अब यह कहा जा रहा है कि भारतीयों के पास अब अपना और टिकटॉक का विकल्प मौजूदा है। हमें अपने ऐप पर उम्मीद से अधिक ट्रैफिक आ रहा है। आडियो और वीडियो आधारित फ्री सोशल प्लेटफॉर्म को 2019 में दो लोगों ने विकसित किया गया था। अब उनका लक्ष्य लाखों यूजर्स को अपने साथ जोड़ना है।

खास बात यह है कि चिंगारी कई भाषाओं में उपलब्ध है, इसके जरिए यूजर वीडियो डाउनलोड और अपलोड कर सकते हैं। अपने दोस्तों के साथ चैट, नए लोगों के साथ जुड़ने, कांटेंश साझा कर सकते हैं। अगर आप चिंगारी ऐप की तुलना टिक टॉक से कर रहे हैं तो यह गलत होगा क्योंकि चिंगारी आप टिक टॉक से काफी ज्यादा आगे हैं और खास बात यह है कि यह पूरी तरह से मेड इन इंडिया है जिससे आपकी सुरक्षित जानकारियां आपके पास ही रहेंगे और इनके चोरी होने का खतरा नहीं रहेगा।

भारत में चाइनीस ऐप को लेकर चल रही यह मुहिम तेजी से रंग ला रही है और मैंने एप डेवलपर्स इस तरह के ऐप बना रहे हैं जिनसे भारत में मौजूद लोगों के स्मार्टफोन से चाइनीस एप्स खत्म करने में मदद मिलेगी।



Read More
Source Link

Related Stories