Good News : इस साल Onion Price में नहीं होगा इजाफा, Govt ने बनाया कुछ इस तरह का Plan

Spread the love

नई दिल्ली। इस साल प्याज की कीमत ( Onion Price ) में किसी भी वजह से इजाफा ना हो, इसकी तैयारी में सरकार अभी से जुट गई है। सरकारी संस्था नेफेड ( Nafed ) ने प्याज का बफर स्टॉक ( Onion Buffer Stock ) अभी से तैयार करना शुरू कर दिया है। जानकारी के अनुसार यह बफर स्टॉक इसलिए तैयार किया जा रहा है कि ताकि कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के बढ़त प्रकोप की वजह से आने वाले दिनों में किसी तरह की परेशानी ना हो। पिछले साल भारी बारिश की वजह से प्याज की फसल ( Onion Crop ) खराब हो गई थी, जिसकी वजह से देश में प्याज के दाम ( Onion Price Hike ) 250 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गए थे।

Coronavirus के दबाव से गिरावट पर खुले Share Market, RILPP से उम्मीदें

एक लाख टन का बफर स्टॉक
नेफेड की ओर से आई जानकारी के अनुसार देश के सभी प्रमुख प्याज उत्पादक राज्यों से प्याज को खरीदकर एक लाख टन का बफर स्टॉक रखा जाएगा। जिसकी शुरूआत भी हो चुकी है। नेफेड किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ), सहकारी समितियों और प्रत्यक्ष खरीद केंद्रों से करीब 25 हजार टन प्याज खरीद लिया है। नेफेड के अनुसार इससे कोविड-19 महामारी के दौरान प्याज की घरेलू कीमतों कंट्रोल करने में मदद मिलेगी। साथ आने वाले दिनों में प्याज की कीमतें कम रहेंगी। आपको बता दें कि पिछले साल नेफेड ने कुल 57,000 टन प्याज खरीदा था।

9 दिनों में 5 रुपए से ज्यादा महंगे हो गए Petrol और Diesel के दाम, जानिए आपके शहर में कितनी हो गई कीमत

किन राज्यों से खरीदा जा रहा है प्याज
नेफेड प्याज का यह बफर स्टॉक महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात में एफपीओ, सहकारी समितियों के साथ ही प्रत्यक्ष खरीद केंद्रों के जरिए कर रहा है। मौजूदा समय में प्याज की कीमत 1,000 रुपए से 1,400 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास है। वहीं देश के महानगरों में प्याज की कीमत 20 से 30 रुपए प्रति किलो है। आपको बता दें कि पिछले साल बेमौसम बारिश और बाढ़ की वजह से देश में प्याज की फसल खराब हो गई थी। वहीं प्याज की सप्लाई भी ठीक से ना होने की वजह से कीमतों में इजाफा हो गया था। प्याज की खुदरा कीमतें 250 रुपए प्रति किलो के पार चली गई थीं।



Read More
Source Link
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by CurrentIndia.net. Source: Patrika.com

Related Stories