अवसाद बन रही युवाओं के लिए सबसे बड़ी समस्या, जानें इसके बारे में

प्रतिस्पर्धा, आपाधापी और भागदौड़ भरी जिंदगी ने कुछ समस्याएं पैदा की हैं इनमें से एक है डिप्रेशन। इससे पीड़ित लोगों में युवाओं की संख्या ज्यादा है। जानें डिप्रेशन से कैसे बचा जाए- बनता दूसरे रोगों का कारण -डिप्रेशन रोगी में गंभीर रोगों जैसे हृदय रोग, बे्रन स्ट्रोक, हायपरटेंशन और डायबिटीज होने का खतरा अधिक रहता है। इसके अलावा यह व्यक्तिके सामाजिक और पारिवारिक सम्बंधों पर भी असर डालता है। डिप्रेशन के प्रकार -सीजनल अफैक्टिव डिस्ऑर्डरपोस्ट पार्टम डिप्रेशनपोस्ट स्ट्रोक डिप्रेशनसाइकोटिक डिप्रेशनबाइपोलर डिप्रेशनडिस्थायमिया ये हैं कारण-ये दिमाग में रसायनिक परिवर्तन के कारण…

Read More

अनिद्रा से छुटकारे के लिए लाभकारी है ये देसी इलाज

शिरोधारा यानी सिर पर किसी तरल पदार्थ का धारा के रूप में लगातार गिरना। इसमें औषधीयुक्त तेल, दूध या छाछ का प्रयोग किया जाता है। शिरोधारा से पहले सिर पर अभ्यंग यानी मालिश करना जरूरी है। ये आयुर्वेदिक उपचार नींद न आने की समस्या में बहुत लाभकारी है। शिरोधारा -तीन प्रकार का होता शिरोधारा1. स्नेह शिरोधारा- इसमें औषधियुक्त तेल या गोधृत का प्रयोग किया जाता है।2. क्षीर शिरोधारा- इसमें रोग व रोगी की प्रकृति के अनुसार औषधिसिद्ध दूध का प्रयोग किया जाता है।3. तक्र शिरोधारा - इसमें औषधिसिद्ध छाछ का…

Read More

गर्मी के मौसम में बच्चे को होने लगें ज्यादा दस्त तो करें ये उपाय

बच्चे को बार-बार लूज मोशन हो रहे हैं तो यह डायरिया भी हो सकता है। अगर दिन में तीन या उससे ज्यादा बार दस्त होते हैं तो डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। लक्षण : डायरिया आमतौर पर 2-5 दिन में ठीक हो जाता है जो कि अधिकतर वायरल इन्फेक्शन से होता है। कई बार यह दो सप्ताह में भी ठीक नहीं हो पाता है जिससे बच्चा कमजोर हो जाता है और उसके शरीर में पानी की कमी होने लगती है। समय पर इलाज न होने से स्थिति गंभीर हो सकती…

Read More

कोविड-19: गुड़ और जीरे का एक साथ प्रयोग करें तो शरीर की इम्युनिटी बढ़ाकर रखे कोरोना जैसे गंभीर रोगों से दूर

आम भारतीय रसोई में आसानी से उपलब्ध गुड़ और जीरा सिर्फ स्वाद बढ़ाने का ही काम नहीं करते बल्कि इनके बहुत से चिकित्सकीय लाभ भी हैं। जीरे और गुड़ का एक साथ सेवन करने से वजन घटाने में आसानी होती है। भोजन और मिठाई बनाने में जिस गुड़ और जीरे का सदियोंसे हमारे भारतीय व्यंजनशाला में इस्तेमाल होता आया है उसका एकसाथ उपयोग करना अन्य कई स्वास्थ्य संबंध परेशानियों को दूर कर सकता है बस सही तरीका मालूम होना चाहिए। आइए हम बताते हैं आपको इनके औषधीय गुणों के बारे…

Read More

इन योगासनों से करें अपने दिन की शुरुआत

अंग्रेजी में एक कहावत है, हेल्थ इज़ वेल्थ (health is wealth) यानी स्वास्थ्य ही धन है। अगर स्वास्थ्य अच्छा हो तो धन कभी भी कमाया जा सकता है। मगर आज के ज़माने में हम अपने स्वास्थ्य को दरकिनार कर सिर्फ पैसा कमाने की होड़ में लगे रहते हैं। स्वास्थ्य और मन अच्छा हो तो ज़िंदगी आसान हो जाती है। ज़िंदगी को बेहतर ढंग से जीने के लिए ज़रूरी है कि हम मानसिक और शारीरिक रूप से पूरी तरह स्वस्थ रहें। इसके लिए सबसे ज़रूरी चीज़ है 'योग' (Yoga)। वो कहते…

Read More

अपना पसंदीदा संगीत सुनने के हैं ये 5 ज़बरदस्त सेहतमंद फायदे

संगीत शरीर और मन के लिए अच्छा है। वैज्ञानिकों की मानें तो संगीत सुनने वाले हमेशा खुश और स्वस्थ बने रहते हैं। इतना ही नहीं संगीत हमें कई मानसिक और शारीरिक परेशानियों से भी दूर रखने में मदद करता है। वैज्ञानिकों के अनुसंधान पर आधारित ऐसे ही कुछ फायदे हम यहां आपको बता रहे हैं-01. मूड रहता ठीकवैज्ञानिकों का कहना है कि जब हम अपने पसंदीदा संगीत या गानों को सुनते हैं तो हमारे दिमाग में डोपामाइन हार्मोन का रिसाव होता है। यह न्यूरोट्रांसमीटर हार्मोन हमारे द्वारा अनुभव की जाने…

Read More

DIET FOR CHOLESTEROL : कोलेस्ट्रॉल घटाने के लिए ये है डाइट प्लान, आज से ही करें फॉलो

खानपान में बदलाव : आहार में मौसमी हरी व रेशेदार सब्जियां, मशरूम, सूखे मेवे अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाते हैं। मौसमी फल जरूर खाएं। लहसुन, फ्लेक्स सीड, खीरा, ककड़ी आहार में लें। बदलें कुकिंग आयल : सामान्यत: लोग एक ही प्रकार का कुकिंग ऑयल प्रयोग करते हैं। इसलिए जरूरी है कि अलग-अलग तेलों का प्रयोग करें। वनस्पति, डालडा, बटर और घी का प्रयोग करने से बचें। कसरत से दिन की शुरुआत : सुबह के समय वॉक और आधे घंटे व्यायाम जरूर करें। नियमित साइकिल चलाएं, स्वीमिंग करें या योगासन कर…

Read More

बहुत काम आएंगे घर में मौ़जूद ये प्राकृतिक एंटीबायोटिक्स, जानें इनके बारे में

एंटीबायोटिक्स दवाइयों का इस्तेमाल जीवाणु (बैक्टीरिया) और इससे होने वाले संक्रमण को खत्म करता है। लेकिन विश्व में एंटीबायोटिक्स का बैक्टीरिया पर कम होता असर चर्चा का विषय बना हुआ है। जीवाणु व इसके संक्रमण को रोकने और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए आयुर्वेद में भी ऐसी कई औषधियां हैं जो एंटीबायोटिक्स का एक अच्छा विकल्प हैंं। इन्हें नेचुरल एंटीबायोटिक्स भी कहते हैं। आयुर्वेद में प्राकृतिक संक्रमणरोधी औषधि का इतिहास कई हजार साल पुराना है। जानें इसके बारे में- आधुनिक चिकित्सा में भी राइनोप्लास्टी व प्लास्टिक सर्जरी…

Read More

तनाव और बेचैनी दूर करने के लिए जानें ये खास नुस्खे

यदि आप बेचैनी से परेशान हैं तो कुछ आसान तरीकों से इन्हें कम किया जा सकता है। किसी से कहें : बेचैनी बार-बार महसूस हो तो अपने किसी मित्र, परिजन या जनरल फिजिशियन को बताएं। इससे मन का बोझ हल्का होने के साथ ही किसी मदद करने वाले व्यक्ति का साथ भी मिलेगा। एक्टिव रहें : एक्सरसाइज सिर्फ तन के लिए नहीं बल्कि मन के लिए भी फायदेमंद है। इससे मूड ठीक होता है, नींद अच्छी आती है और ऊर्जा मिलती है। यह एंटीडिप्रेसेंट का काम करती है। अच्छा खाएं…

Read More

गर्मी में बील के पत्ते शरीर को देते हैं तुरंत ऊर्जा अन्य रोगों में भी फायदेमंद

गर्मी में बील का शर्बत पेट को ठंडा रखकर रोगों से बचाता है। इसकी पत्तियां भी फायदेमंद हैं। बुखार से राहत : बील की पत्तियों का काढ़ा पीने से बुखार में राहत मिलती है। मधुमक्खी या ततैया के काटने पर जलन होने पर प्रभावित भाग पर बेलपत्र का रस लगा सकते हैं। हृदय रोग : बेलपत्र का काढ़ा नियमित पीने से हार्ट अटैक का खतरा कम होता है, इसके काढ़े के सेवन से अस्थमा रोगियों को राहत मिलती है। छालों से मुक्ति : शरीर में अधिक गर्मी बढऩे पर यदि…

Read More

पतले होने की दवाई खाने के हैं नुकसान, जानें इसके बारे में

इन दिनों युवाओं में बढ़ते वजन के मामले ज्यादा सामने आ रहे हैं। जिसका कारण फिजिकल एक्टिविटी और सही खानपान का अभाव और स्लिमिंग पिल्स को वजन कम करने का शॉर्टकट बनाना है। ये शरीर में बदलाव तो करती हैं लेकिन धीरे-धीरे इसके दुष्प्रभाव खासकर हृदय, लिवर व पाचनतंत्र पर बुरा असर डालते हैं। होता है असर -जो लोग पतले होने की दवाई लेते हैं उनमें इसका असर तभी होता है जब इनके साथ खानपान में सही परहेज व दिनचर्या में शारीरिक गतिविधि शामिल की जाए। नुकसान के तौर पर…

Read More

कोरोना : कैंसर के मरीज ऐसे करा सकते हैं सुरक्षित इलाज

कोरोना के चलते कैंसर के मरीजों को इलाज में कई तरह की मुश्किलें आ रही हैं। कैंसर के मरीजों के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। जांच और इलाज में मुश्किलेंकोरोना महामारी के दौरान कैंसर मरीज को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उसे घर से चिकित्सालय तक पहुंचने, बीमारी से जुड़ी जांचें नहीं हो पा रही हैं। बीमारी की पहचान के बाद इलाज में मुश्किलें आ रही हैं। क्योंकि इलाज के बाद इम्युनिटी घटने से मरीज ज्यादा संवेदनशील हो जाता है। मरीज के…

Read More

SKIN TIPS : पसीने से क्या वाकई त्वचा में निखार आता है?

पसीने के बाद त्वचा में ये बदलाव होते त्वचा रोग विशेषज्ञ का कहना है कि प्राकृतिक चमक देता है, क्योंकि पसीना शरीर में ब्लड सर्कुलेशन के कारण एक आंतरिक चमक देता है। इसलिए पसीने के बाद त्वचा नरम हो जाती है और स्वाभाविक रूप से जीवंत और चमकदार दिखती है। पसीना न केवल त्वचा बल्कि बालों को भी स्वस्थ रखता है।बंद रोमछिद्र खुलते क्या आप जानते हैं कि पसीना निकलने से बंद हो चुके रोम छिद्र खुलते हैं। त्वचा की परत पर जमा गंदगी बाहर आ जाती है। डेड स्किन…

Read More

सावधान! बारिश में आपका बच्चा हो सकता है बीमार, आज से ही करें ये काम

बच्चों की इम्युनिटी कमजोर करता संक्रमणमौसम के बदलते मिजाज के बीच होने वाला संक्रमण बच्चों की इम्युनिटी कमजोर करता है। ऐसे में बच्चों के खानपान के साथ जरूरी एहतियात बरतनी चाहिए। बच्चों को खाने में दूध, फल और दाल का पानी देना बहुत जरूरी है। बच्चों के शरीर की रोग प्रतिरोधकता मजबूत रहेगी तो बीमारियों का खतरा भी कम रहेगा।खुद न करें इलाज, पहले जानें कारण बारिश में सर्दी, जुकाम और बुखार ज्यादा होता है। इसके होने का अलग कारण होता है जिसकी वजह से बच्चों में अलग-अलग लक्षण दिखते…

Read More

AYURVEDA TIPS : इम्युनिटी बढ़ाने के लिए बच्चों को दें गोल्डन मिल्क

हाइजीन का ध्यानबारिश में शिशु के अलावा उसके आसपास सफाई रखना भी बहुत जरूरी है। नमी से बैक्टीरिया की प्रजनन क्षमता काफी तेज हो जाती है। शिशु के कमरे में पोछा लगाएं। घर के कूड़ेदान, कूलर, किचन का सिंक, गैस अच्छे से साफ करें। डेंगू-मलेरिया फैलाने वाले मच्छरों से बचने के लिए घर में व पानी न जमा होने दें। इन हिस्सों पर वायरस ज्यादा सक्रिय होते मानसून के मौसम में बैक्टीरिया और वायरस बहुत ज्यादा एक्टिव हो जाते हैं, इसलिए जरूरी है कि आप बच्चों को गीला न होने…

Read More