फुटबॉल जगत का यह ऐतिहासिक करार अब है बैंक में जमा, 20 साल पहले किया गया था पेपर नैपकिन पर

Spread the love

नई दिल्ली : आज ही के दिन 24 जून 1987 को लियोनेल मेसी (Leonel Messi) का जन्म अर्जेंटीना के रोसेरियो में हुआ था। आज वह अपना 33वीं सालगिरह (Happy Birthday Messi) मना रहे हैं। तब किसी को नहीं पता था कि यह लड़का बड़ा होकर फुटबॉल जगत पर राज करेगा, लेकिन महज 13 साल की उम्र में साल 2000 के सितंबर में उन्होंने ऐतिहासिक करार हासिल कर आने वाले दिनों के संकेत दे दिए थे। महज 13 साल की उम्र में अर्जेंटीना से बार्सीलोना के टैलेंट स्काउट्स में मेसी को स्पेन लाया गया। ट्रायल में कोच समेत बार्सीलोना एकेडमी की पूरी मैनेजमेंट टीम को उन्होंने अपने स्किल और बॉल कंट्रोल से प्रभावित किया। इसके बाद वह अपने देश लौट आए।

तुरत कॉन्ट्रैक्ट साइन नहीं करना चाहते थे क्लब के प्रेसीडेंट

फुटबॉल के जादूगर मेसी के पिता को कहा गया कि उनके बेटे को क्लब की ओर से कॉन्ट्रैक्ट दिया जाएगा। लेकिन जब क्लब प्रेसीडेंट जोआन गस्पार्ट को लगा कि मेसी महज 13 साल के हैं तो वह तुरत उनके साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन नहीं करना चाहते थे। उन्हें लगा कि बाद में भी कॉन्ट्रैक्ट साइन किया जा सकता है। तब मैसी के पिता के दोस्त होरासिओ गग्गिओलि ने बार्सीलोना क्लब के अध्यक्ष को बताया कि बार्सीलोना अगर उन्हें कॉन्ट्रैक्ट नहीं देता है तो मेसी रियल मेड्रिड में भी ट्रायल देने के लिए जाएंगे।

FIFA ने किया U-17 Women World Cup Football की नई तारीख का ऐलान, नवी मुंबई में होगा फाइनल

तीन महीने बाद मिला करार

इस घटना के तीन महीने बाद बार्सीलोना के टेक्निकल सेक्रेटरी कार्लोस रेजश के साथ गग्गिओलि टेनिस खेल रहे थे। गग्गिओलि और कार्लोस रेजश टेनिस सेशन के बाद जब कॉफी पी रहे थे तो उन्होंने बताया कि वह मैसी को बार्सीलोना का कॉन्ट्रैक्ट साइन कराएंगे। इस दौरान उन दोनों के साथ जोसेप मारिया मिनगेला नाम का एक फुटबॉल एजेंट भी वहां मौजूद था। इसी एजेंट ने सबसे पहले बार्सीलोना के टैलेंट स्काउट टीम को मेसी के बारे में बताया था।

अब बैंक में रखा है कॉन्ट्रैक्ट पेपर

गग्गिओलि और मिनगेला ने कार्लोस से कहा कि देर किस बात की। कुछ ही दिनों में कॉन्ट्रैक्ट तैयार कर भेज दीजिएगा। लेकिन कार्लोस ने उन्हें सरप्राइज देते हुए वहीं से एक पेपर नैपकिन उठा लिया और उस पर लिखा, 'बार्सिलोना में दिसंबर 14 को मिनगेला, होरासिओ गग्गिओलि और कार्लोस रेजश के मौजूदगी में यह निर्णय लिया जा रहा रहा है कि लियोनेल मैसी को बार्सीलोना में साइन कराया जाएगा, जब तक वह तय हुए पैसे में खेलने के लिए राज़ी हैं।' इसके बाद इन तीनों ने फिर उस नैपकिन पेपर पर साइन भी किया।

प्रशंसकों के लिए खुशखबरी, Corona के कारण स्थगित Australia football A लीग

अब बैंक में जमा है वह पेपर नैपकिन

कुछ हफ्ते के बाद मैसी को बार्सीलोना की तरफ से कॉन्ट्रैक्ट पेपर मिल गया था और यह पेपर होरासिओ गग्गिओलि के पास ही रह गया। वह अब अंडोरा में रहते हैं और फुटबॉल की दुनिया का वह सबसे ऐतिहासिक 'कॉन्ट्रैक्ट पेपर' उन्होंने अंडोरा बैंक में संभालकर रखा है।



Read More
Source Link
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by CurrentIndia.net. Source: Patrika.com

Related Stories