बुढापे को सिक्योर करती है Pradhan Mantri Vaya Vandan Yojana, मिलती है 10000 रूपए की पेंशन

Spread the love

नई दिल्ली : अगर आप भी अपने मां-बाप के बुढ़ापे को रिटायरमेंट प्लान में निवेश के जरिए सिक्योर करना चाहते हैं, तो ये आर्टिकल आपके बेहद काम आ सकता है। दरअसल हम आज आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में बताएंगे जिसमें निवेश के बाद रिटायरमेंट पर 10000 रूपए की मंथली पेंशन ( monthly pension ) पक्की । हम बात कर रहे है पीएम वय वंदन योजना ( PM Vaya Vandana Yojana ) की । ये स्कीम पहले 30 मार्च को बंद होने थी लेकिन इसकी पॉपुलैरिटी और देश के हालात के चलते LIC ने इसे दोबारा लॉन्च किया और अब अगले 3 साल तक इस स्कीम में फिर से निवेश कर सकते हैं ।

क्या है ये स्कीम-

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (PMVVY) सीनियर सिटीजन्स के स्थाई पेंशन की योजना ( Pension Scheme ) है यानि इस स्कीम में इंवेस्ट करके आप हर महीने पेंशन ( monthly pension ) पा सकते हैं। यह पेंशन स्कीम 60 साल या इससे ऊपर के लोगों के लिए है । इस स्कीम में इंवेस्ट करने की कोई आयु सीमा नहीं है। इस स्कीम में सलाना रिटर्न 8% से 8.30% है। 2017-18 और 2018-19 के आम बजट में इसका ऐलान हुआ था। पेंशन ( pension ) सिर्फ 10 साल तक ही मिलती है। इस योजना में 15 लाख रुपए का निवेश करने पर 10,000 योजना जारी रहने तक हर महीने मिलती रहती है। अगर कोई व्यक्ति 10 साल बाद भी पेंशन लेना चाहता है तो उसे इस योजना में फिर से निवेश करना होगा। इस स्कीम के तहत प्रीमियम आप 3 महीने, 6 महीने या सालाना दे।

UPI PIN नहीं है सिक्योरिटी की गारंटी, इस्तेमाल करते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

कितना करना होगा निवेश –

इस स्कीम के तहत आप मिनिमम 1.50 लाख रुपए और मैक्सिमम 15 लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं। पॉलिसी लेने वक्त जमा रकम 10 साल पूरा होने के बाद वापस हो जाती है।

किन डॉक्यूमेंट्स की होगी जरूरत- इस स्कीम में निवेश के लिए आपको पैन कार्ड ( PAN CARD ) की कॉपी, एड्रेस प्रूफ के लिए आधार ( AADHAR CARD ) या फिर पासपोर्ट की फोटो कॉपी ( PASSPORT ) चाहिए होगी। इसके अलावा बैंक अकाउंट डीटेल ताकि आपके अकाउंट में पैसा ट्रासफर हो सके।



Read More
Source Link
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by CurrentIndia.net. Source: Patrika.com

Related Stories