फिल्मों से निकाले जाने से डिप्रेस नहीं थे सुशांत सिह राजपूत, करीबी दोस्त संदीप सिंह ने बताया- 'उसने 5 सालों में खुद 30 से 40 फिल्में छोड़ी हैं'

Spread the love

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से कई सवाल घुमड़ रहे हैं। देहांत की वजह इंडस्ट्री की खेमेबाजी बताई जा रही है। उनका परिवार मानने को तैयार नहीं है कि सुशांत डिप्रेशन में थे जिससे उन्होंने आत्महत्या की। इन सब मसलों पर सुशांत के करीबी दोस्त और प्रोड्यूसर संदीप सिंह से दैनिक भास्कर की खास बातचीत हुई है।

क्या सुशांत से ने डिप्रेशन के चलते ली जान?

हर इंसान की खुद की एक लड़ाई होती है। क्या मुझे स्ट्रगल नहीं करना पड़ रहा? क्या संजय लीला भंसाली को पद्मावत रिलीज करने के लिए स्ट्रगल नहीं करना पड़ा था? क्या शाहरुख खान को एक फिल्म हिट देने के लिए पिछले 5 साल से लड़ना नहीं पड़ रहा है? क्या ठग्स ऑफ हिंदुस्तान फ्लॉप हो जाए तो आमिर खान डिप्रेशन में चले जाएं? हम जब इंस्पायरिंग पर्सनैलिटी के रूप में करोड़ों लोगों के सामने आते हैं तो हम ऐसे कदम लें, जिनसे हमारे लोग और इंस्पायर हो जाएं।

सुशांत की टीवी से लेकर फिल्मों तक की जर्नी कैसी है?

एक आउटसाइडर इंसान,जो बिहार और दिल्ली से आकर टीवी की टॉप प्रोड्यूसर एकता कपूर के सीरियल करता है। नंबर वन बनता है। फिर सीरियल छोड़ता है। फिल्मों में आता है और 5 सालों में 12 टॉप की फिल्में करता है। उनमें से तीन 'सौ करोड़ क्लब' की फिल्में हैं। ब्योमकेश, राब्ता, धोनी, छिछोरे, पीके के तहत बड़े प्रोड्यूसर्स के साथ काम किया। अभी तो बस शुरुआत हुई थी बस 34 साल के थे 70 के नहीं। हर इंसान के पर्सनल लाइफ में दिक्कत होती है। रिश्तों की उठापटक रहती है। हम उन्हें कितना सीरियस लेते हैं, वह अहम सवाल है।

उनकी मौत पर सवाल क्यों खड़े हो रहे हैं?

सच कहूं तो सवाल न सुशांत की फैमिली ने खड़े किए हैं, न पुलिस ने। कोई नेपोटिज्म, कोई डिप्रेशन, कोई...



Read More
Source Link

Related Stories