वेस्टइंडीज के कप्तान Jason Holder बोले, नस्लवाद को फिक्सिंग और डोपिंग की तरह लेना चाहिए

Spread the love

वेस्टइंडीज टेस्ट टीम के कप्तान Jason Holder ने नस्लवाद पर बात करते हुए इसे खेल में भी अपराध घोषित करने की मांग की है।

लंदन : नस्लवाद विश्वव्यापी समस्या है और यह आज भी अपने भयावह रूप में मौजूद है। इसका ताजा उदाहरण हाल ही में अमरीका में देखने को मिला, जब श्वेत पुलिसकर्मी ने अपनी हिरासत में अश्वेत जार्ज फ्लॉयड (George floyd) के गर्दन को अपने घुटने से इतनी देर तक दबाए रखा था कि उनकी मौत हो गई। इसके बाद पूरे विश्व में स्वत: स्फूर्त आंदोलन पैदा हुआ, जिसके समर्थन में कई अश्वेत क्रिकेटर भी आए। अब वेस्टइंडीज टेस्ट टीम के कप्तान जेसन होल्डर (Jason Holder) ने नस्लवाद पर बात करते हुए इसे खेल में भी अपराध घोषित करने की मांग की है।

Aakash Chopra ने क्रिकेट में नेपोटिज्‍म पर की बात, Arjun Tendulkar और Rohan Gavaskar का दिया उदाहरण

डोपिंग और फिक्सिंग की तरह का है अपराध

जेसन होल्डर ने कहा कि नस्लवाद को खेल में भी अपराध घोषित किया जाए और दोषी व्यक्ति को डोपिंग (Doping)और मैच फिक्सिंग (Match Fixing) में जिस तरह सजा मिलती है, उसी तरह नस्लवाद के लिए भी सजा मिलनी चाहिए। होल्डर ने कहा कि खेल में नस्लवाद का मुद्दा तेजी से उभर रहा है। इसे भी खेल के बाकी अपराधों की तरह ही लेना चाहिए। होल्डर ने एक ब्रिटिश मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्हें नहीं लगता कि डोपिंग और भ्रष्टाचार पर जो पेनाल्टी है, नस्लवाद पर उससे तनिक भी कम होना चाहिए। होल्डर ने कहा कि अगर हमारे खेल में मुद्दे हैं तो सबको समान रूप से लेना चाहिए।

नस्लवाद पर खिलाड़ियों को बनाया जाना चाहिए जागरूक

जेसन होल्डर ने कहा कि सीरीज से पहले जिस तरह आईसीसी (ICC) डोपिंग और भ्रष्टाचार के बारे में खिलाड़ियों को जानकारी देता है और उन्हें जागरूक करता है, उसी तरह नस्लवाद को लेकर भी खिलाड़ियों को जानकारी देनी चाहिए और जागरूक करना चाहिए। होल्डर ने कहा कि सीरीज से पहले डोपिंग रोधी और भ्रष्टाचार रोधी बैठक के साथ-साथ नस्लवाद रोधी बैठक भी करना चाहिए। होल्डर ने कहा कि उनका संदेश साफ है कि इसे लेकर लोगों को ज्यादा से ज्यादा शिक्षित किया जाना चाहिए।

सामने आया Virat Kohli के नंबर एक बनने का राज, Hardik Pandya ने सबके सामने ओपन कर दिया सीक्रेट

नस्लवाद के समर्थन में नहीं हो सकते खड़े

जेसन होल्डर ने कहा कि उन्होंने खुद को लेकर कोई नस्लीय टिप्पणी नहीं सुनी, लेकिन दूसरों को लेकर सुनी और देखी हैं। उन्होंने कहा कि यह ऐसी चीज है, जिसके साथ आप खड़े नहीं हो सकते।



Read More
Source Link

Related Stories