सामने आया Virat Kohli के नंबर एक बनने का राज, Hardik Pandya ने सबके सामने ओपन कर दिया सीक्रेट

Spread the love

Team India के कप्तान Virat Kohli ने हाल ही में Hardik Pandya को बताया था अपना सीक्रेट। पांड्या ने कर दिया सबके सामने जगजाहिर।

नई दिल्ली : टीम इंडिया (Team India) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को मौजूदा दौर के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक माना जाता है। उनकी कामयाबी का रहस्य क्या है, इसे लेकर सभी में उत्सुकता बनी रहती है। हरफनमौला हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) के मन भी यह उत्सुकता थी। इसलिए उन्होंने कोहली से इस बारे में पूछा था। कोहली ने अपनी कामयाबी का सीक्रेट हार्दिक पांड्या को बताया तो हार्दिक ने उनका यह रहस्य सबके सामने खोल कर रख दिया।

अब Mahendra Singh Dhoni करने जा रहे हैं बड़ी पहल, युवाओं और बच्चों को मिलेगा फायदा

क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में है शानदार रिकॉर्ड

विराट कोहली का रिकॉर्ड क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में शानदार है। उनके नाम एकदिवसीय क्रिकेट (Oneday international) में 11,867 रन, टेस्ट (Test Cricket) में 7,240 रन, जबकि टी-20 अंतरराष्ट्रीय (T20I) में 2,794 रन हैं। कोहली टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। इसके अलावा टीम इंडिया के कप्तान दुनिया के इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनका औसत 50 या इससे अधिक का है।

दो दिन पहले ही कोहली ने बताया कामयाबी का राज

हार्दिक पांड्या ने बताया कि उन्होंने दो दिन पहले ही टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से मैसेज कर पूछा था कि उनके इतने बेहतरीन बल्लेबाज होने का राज क्या है। पांड्या ने बताया कि इससे पहले उन्होंने कोहली से इस बारे में कभी बात नहीं की थी। पांड्या ने बताया कि इस सवाल के जवाब में कोहली ने उन्हें मैसेज भेजकर कहा कि अगर आपका एटीट्यूट अच्छा होता है तो सबकुछ अच्छा होता है।

VVS Laxman ने कहा कि भारतीय क्रिकेट के लिए Sourav Ganguly-Rahul Dravid की साझेदारी बेहद अहम

निरंतरता और नंबर एक बनने की भूख होनी चाहिए

हार्दिक पांड्या ने बताया कि टीम इंडिया ने उनसे कहा कि टॉप पर पहुंचने के लिए निरंतरता बनाए रखना होता है। इसके साथ ही दिमाग में बस एक और चीज रखने की जरूरत होती है। वह यह कि आपके भीतर हद से ज्यादा नंबर एक बनने की भूख होनी चाहिए, लेकिन इसकी दिशा सही होना चाहिए। हार्दिक ने कहा कि इसके आगे विराट ने बताया कि किसी को नीचे करते नहीं करने का लक्ष्य नहीं, बल्कि कड़ी मेहनत और अपनी क्षमता के दम पर नंबर एक बनने का मकसद होना चाहिए। हार्दिक ने कहा कि इसके बाद उन्हें पता चला कि कोहली इतना अच्छा कैसे खेल पाते हैं।



Read More
Source Link

Related Stories