मुंबई में फंसे 173 प्रवासी श्रमिकों को Sonu Sood ने विमान से भेजा उत्तराखंड, सभी ने तालियां बजाकर किया धन्यवाद

Spread the love

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) इन दिनों प्रवासी मजदूरों के मसीहा के तौर पर सामने आए हैं। जब से देश में कोरोना वायरस (Coronavirus In India) ने दस्तक दी है, तभी से रोजी रोटी के लिए गांव से शहर में आए प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) का पलायन जारी है। लेकिन मजदूरों को पैदल सड़कों पर चलता देख सोनू सूद ने उनकी मदद (Sonu Sood Helping Migrants) करने का फैसला लिया। उन्होंने अपने खर्चे पर बसों का इंतजाम किया और प्रवासी मजदूरों को खाना के साथ उनके घर भेजा। अभी तक वह हजारों लोगों को घर भेज चुके हैं और उनका ये काम जारी है। पहले बस, फिर ट्रेन और अब हवाई जहाज का भी सहारा सोनू ले रहे हैं।

रेल कोच के टॉयलेट के पास सोते थे Sonu Sood, बहन मल्विका ने कहा, उसे मजदूरों का दर्द पता है

173 श्रमिकों को विमान से भेजा घर

सोनू सूद ने एयर एशिया इंडिया के एक विमान से मुंबई से 173 प्रवासी श्रमिकों (Sonu Sood Sent Workers By Plane) को उनके घर उत्तराखंड (Uttrakhand) भेजा। एयर एशिया इंडिया के एक प्रवक्ता ने पीटीआई-भाषा को बताया कि एयरबस ए320 मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे दोपहर के लगभग 1:57 पर उड़ान भरी और शाम 4:41 पर यह देहरादून के जॉली ग्रांट हवाई अड्डे पर उतरा।

कभी नहीं की थी विमान की यात्रा

प्रवासियों को हवाई जहाज से घर भेजने से पहले सोनू सूद ने कहा कि इनमें से ज्यादातर ने कभी प्लेन की यात्रा नहीं की थी। जब वह घर जाने के लिए एयर एशिया इंडिया के विमान में प्रवेश कर रहे थे तो उनके चेहरे की खुशी देखने लायक थी। एयरपोर्ट का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें सोनू सारे इंतजाम देखते हुए नजर आ रहे हैं। वहीं घर जा रहे लोगों में से एक महिला ने कहा, हम दो ढाई महीने से फंसे हुए थे। सोनू सूद हमें अब फ्लाइट से भेज रहे हैं। हम अगले साल सोनू भाई को राखी भेजेंगे। वीडियो में दूसरी महिला कहती हैं कि हम काफी दिन से भटक रहे थे लेकिन सोनू सूद की वजह से आज हम घर जा रहे हैं। उसके बाद वह एक्टर को थैक्यूं कहती हैं। उसके बाद जब सोनू सूद एयरपोर्ट से निकल रहे होते हैं तो सभी प्रवासी श्रमिक तालियां बजाते हुए उन्हें थैक्यूं कहते हैं।



Source Link
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by CurrentIndia.net. Source:

Related Stories