Coronavirus के खौफ से South Korea में लोगों ने माइक्रोवेब में जला दिए खरबों डॉलर

Spread the love

सियोल। कोरोना महामारी से पूरी दुनिया परेशान है और अब तक इस वायरस ने डेढ़ करोड़ से अधिक लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है तो वहीं करीब 7 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। कोरोना महामारी को लेकर दुनियाभर के लोग खौफ में है। लेकिन दक्षिण कोरिया के लोगों में कोरोना वायरस का खौफ कहीं अधिक देखा जा रहा है।

साउथ कोरिया में लोगों में कोरोना का खौफ किस कदर तक है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने 2.25 ट्रिल्‍यन डॉलर मूल्‍य के नोटों और सिक्‍कों को नष्‍ट कर दिया।

इतना ही नहीं कोरोना वायरस से बचने के लिए लोगों ने नोटों को वाशिंग मशीन में डालकर धो दिए इससे नोट खराब हो गए। इसके अलावा कुछ लोगों ने तो नोटों की गड्डी को ही माइक्रोवेब अवन और वाशिंग मशीन में डाल दिया। इससे काफी नोट खराब गए। इस तरह की तमाम घटनाओं के बाद अब दक्षिण कोरिया की केंद्रीय रिजर्व बैंक को खबरों डॉलर के नोटों का नुकसान हुआ है।

बैंक ऑफ कोरिया ने शुक्रवार को कहा क‍ि पिछले छह महीने में साल 2019 की तुलना में लोगों ने 3 गुना ज्‍यादा जले हुए नोट बदले हैं। बैंक का कहना है कि संभवतः कोरोना वायरस के खौफ से लोग ऐसा कर रहे हैं। बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल जनवरी से जून के बीच में 1.32 अरब वॉन (1.1 अरब डॉलर) के जले हुए नोट लौटाए गए हैं, जबकि इसी अवधि में बीते साल केवल 40 लाख डॉलर के जले हुए नोट लौटाए गए थे। बता दें कि दक्षिण कोरिया के रिजर्व बैंक को ही बैंक ऑफ कोरिया कहा जाता है।

माइक्रोवेब अवन में लोगों ने जलाए नोट

बैंक ने कहा है कि जितने भी जले हुए नोट आए हैं उससे पता चलता है कि इसे माइक्रोवेब अवन के अंदर डाल कर जलाया गया है। इससे ये जाहिर होता है कि कोरोना वायरस के फैलने के डर से लोगों ने इसे अवन के अंदर जला दिया। बैंक ने बताया कि इस साल के शुरूआती 6 महीनों में 2.69 ट्रिल्‍यन वॉन यानी 2.25 ट्रिल्‍यन डॉलर मूल्‍य के कटे-फटे और जले हुए नोट और सिक्‍के बरामद हुए हैं।

बैंक ने बताया कि एक व्यक्ति ने 35.5 मिलियन वॉन या 30 हजार डॉलर के नोट बदले जिसे उसने वॉशिंग मशीन में डाल दिया था। इससे उसके 35 फीसदी नोट खराब हो गए थे। इसके बदले में उसे केवल 22.9 म‍िल‍ियन वॉन ही वापस मिले। इसके अलावा एक अन्य व्यक्ति ने 5.2 मिल‍ियन वॉन माइक्रोवेब के अंदर डाल दिए, ताकि नोटों पर मौजूद कोरोना वायरस मर जाएं। आपको बता दें कि दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस से अब तक 14 हजार से अधिक केस सामने आ चुके हैं।



Read More
Source Link

Related Stories