Hong Kong: विवादित चीनी राष्ट्रगान विधेयक पास, अपमान करने पर तीन साल तक हो सकती है सजा

Spread the love

बीजिंग। चीन ( China ) के खिलाफ लगातार हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच गुरुवार को हांगकांग ( Hong Kong ) की विधायिका ने विवादस्पद विधेयक को मंजूरी दे दी। इसके साथ ही अब हांगकांग में चीनी राष्ट्रगान ( China's national anthem ) 'मार्च ऑफ द वॉलंटियर्स' का अपमान करना गैरकानूनी होगा।

हालांकि संसद के अंदर लोकतंत्र समर्थक ( Pro democracy ) विपक्षी सदस्यों ने मतदान बाधित करने की कोशिश की। विपक्षी सदस्य इसे अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता ( Freedom of expression ) और अधिक अधिकारों के उल्लंघन के रूप में देखते हैं। इधर बिल के पारित होने के बाद लोगों ने भारी संख्या में चीन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

WHO को देर से कोरोना की जानकारी देने के आरोप को चीन किया खारिज, कहा- ये असत्य है

विधेयक पारित होने के बाद चीन समर्थक बहुमत ने कहा कि हांगकांग के नागरिकों को राष्ट्रगान के प्रति उचित सम्मान दिखाने के लिए यह कानून आवश्यक था।

विधेयक के विरोध में पड़े 1 वोट

आपको बता दें कि संसद के अंदर काफी विरोध हुआ और संसद की कार्रवाई को बाधित करने की कोशिश की गई। लेकिन सुरक्षाबलों ने विरोध कर रहे लोकतंत्र समर्थकों को संसद की कार्रवाई से बाहर निकाल दिया। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के अनुसार, इस विधेयक के समर्थन में 41 और विरोध में एक वोट पड़ा।

चीनी राष्ट्रगान का अपमान करने पर होगी सजा

इस विधेयक के मुताबिक, यदि कोई नागरिक जानबूझकर चीनी राष्ट्रगान 'मार्च ऑफ द वॉलंटियर्स' का अपमान करता है और दोषी पाया जाता है तो उसे तीन साल तक की सजा और 50,000 हांगकांग डॉलर (6,450 अमरीकी डॉलर) जुर्माना हो सकता है।

बता दें कि मई महीने में बीजिंग समर्थक एक विधायक को विधेयकों की जांच करने वाली समिति का अध्यक्ष चुना गया था। उसी वक्त इस विधेयक का पारित होना तय गया था। चीन समर्थक हांगकांग की शीर्ष नेता कैरी लेम ने कहा था कि इस विधेयक को पारित करना सरकार की प्राथमिकता है।

चीन ने ब्रिटेन की आपत्ति पर जताया विरोध

हांगकांग में चीनी राष्ट्रगान संबंधित विधेयक को लेकर ब्रिटेन ने आपत्ति जताई, इस पर चीन ने ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ( British PM Boris Johnson ) की टिप्पणी की आलोचना करते हुए कहा कि वह उनके (चीन) आंतरिक मामलों में दखल देना बंद करे। विदेश मंत्रालय के झाओ लिजियन ने गुरुवार को आरोप लगाते हुए कहा कि ब्रिटेन चीन के घरेलू मामलों में अनावश्यक हस्तक्षेप कर रहा है।

Britain ने दी चेतावनी, कहा- Hongkong में चीन के राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को नए आव्रजन नियम देंगे चुनौती

उन्होंने आगे कहा कि हमारी ब्रिटेन ( Britain ) को सलाह है कि वह अपनी शीत युद्ध की मानसिकता और दिमाग में भरे औपनिवेशिक विचारों को हटाए। वह इस सच्चाई को समझने की कोशिश करे और इसका सम्मान करे कि हांगकांग चीन का अभिन्न हिस्सा है।



Read More
Source Link

Related Stories