LAC पर भारतीय जवानों के शहीद होने पर घबराया चीन, कहा- एकतरफा कदम न उठाए भारत

Spread the love

बीजिंग। भारत-चीन सीमा विवाद (India-China Faceoff) को लेकर लद्दाख (Ladakh) सीमा पर तनाव की स्थिति बरकरार है। यहां पर चीन की सेना से झड़प में एक भारतीय सेना (Indian Army) का एक अधिकारी और दो जवान शहीद हो गए हैं। उधर चीन इस घटना को लेकर काफी गंभीर है और उसने भारत से अपील की है कि वह जल्दबाजी में कोई कदम न उठाए। चीन के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि भारत एकतरफा कार्रवाई जैसा कदम न उठाए और इस मामले को ज्यादा तूल न दे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लद्दाख सीमा पर दोनों देशों के बीच स्थिति काफी तनावपूर्ण है। हालांकि दोनों सेनाओं के ओर से अधिकारियों की मीटिंग जारी है। मंगलवार सुबह चीनी विदेश मंत्री वांग यी के कहा कि सीमा विवाद पर दोनों देशों के बीच बातचीत काफी सफल रही है। और जल्द ही कोई न कोई हल निकालने की पहल की जाएगी। भारतीय सेना की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि गलवान घाटी में डि-एस्केलेशन प्रक्रिया के दौरान दोनों के सेनाओं के जवान आमने.सामने आ गए। इस दौरान हमारे जवान शहीद हो गया। इनमें भारतीय सेना का एक अधिकारी और दो सैनिक शामिल हैं।

भारत पर ही लगाया आरोप

एक तरफ चीन भारत से एकतरफा कदम न उठाने अपील कर रहा है। चीन भारतीय सेना को ही इस हिंसा का जिम्मेदार मान रहा है। चीनी सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने भारतीय सेना पर सीमा समझौते का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है। चीन ने आरोप लगाया है कि भारतीय सेना के जवानों ने दो बार सीमा पार करने की कोशिश की, जिसके बाद पूरा मामला हिंसक हो गया। चीन ने भारत से कहा है कि उसे अपनी सेना को समझौते के मुताबिक सीमा पार करने से रोकना चाहिए। इससे इस तरह की झड़पों से बचा सकता है।

चीन के साथ सीमा पर तनाव जारी

भारत-चीन सीमा पर 45 साल यानी 1975 के बाद ऐसे हालात सामने आए है। जब भारत के जवानों ही शहादत हुई है। दोनों देशों के बीच 41 दिनों से सीमा विवाद चल रहा है। इसकी शुरुआत 5 मई से हुई थी। इसके बाद दोनों देशों की सेनाओं के बीच चार बार बातचीत हो चुकी है। बातचीत में दोनों देशों की सेनाओं के बीच रजामंदी बनी थी कि बॉर्डर पर तनाव कम किया जाए या डी-एक्सकेलेशन किया जाए। मगर इस दौरान दोनों देश सीमा पर रसद और हथियार जमा कर रहे हैं।



Read More
Source Link
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by CurrentIndia.net. Source: Patrika.com

Related Stories