चीन Gwadar में बना रहा हाई सिक्यूरिटी जोन, जल्द यहां तैयार होगा नौसैनिक अड्डा

Spread the love

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच सीमा विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं चीन पाकिस्तान (Pakistan) के बलूचिस्तान (Balochistan) प्रांत स्थित ग्वादर (Gwadar) पोर्ट के पास एक सिक्योरिटी जोन (High Security Zone) तैयार कर रहा है। ये हाई सिक्योरिटी कंपाउंड होगा, जिसका उपयोग चीन नौसैनिक अड्डे के लिए करेगा। फोर्ब्स मैग्जीन (Forbes Magazine) के अनुसार चीन के ग्वादर में नौसैनिक अड्डा बनाने की तैयार कर रहा है।

फोर्ब्स के अनुसार यह हिंद महासागर में चीन की स्थिति को और मजबूत करेगा। उपग्रह चित्र से पता चलता है कि हाल के वर्षों में कई नए परिसर बनाए गए हैं। उनमें से एक तस्वीर में चीन की कंपनी बंदरगाह को विकासित करते दिख रही है।

पाकिस्तान के तट के पश्चिमी छोर पर मौजूद ग्वादर चीन के बेल्ट एंड रोड इनेशिएटिव में एक प्रमुख बंदरगाह बन चुका है। सबसे पहली बार जनवरी 2018 में चीन द्वारा नौसेना अड्डा बनाने की सूचना मिली थी। हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी कभी पुष्टि नहीं हुई।

अभी जिस हाई सिक्योरिटी कंपाउंड का इस्तेमाल हो रहा है उसे चीन संचार निर्माण कंपनी के नाम किया जाता है। हालांकि इस क्षेत्र में कुछ हद तक सुरक्षा सामान्य है, लेकिन यहां देखे गए सुरक्षा का स्तर काफी बड़े है।

फोर्ब्स (Forbes) के मुताबिक, इस क्षेत्र में वाहन रोधी बरम, सुरक्षा बाड़ और एक ऊंची दीवार रखी गई हैं। यहां पर एक ऊंचे गार्ड टॉवर के साथ बाड़ और आंतरिक दीवार है। सइ हाई सिक्योरिटी कंपाउंड के अलावा बीते साल दो नीली छत का इमारतों को छोटी साइट पर बनाया गया है। चीन इस क्षेत्र में हाई सिक्योरिटी जोन को बनाकर ये संकेत दे रहा है कि यहां से वह किसी बड़ी कार्रवाई को अंजाम भी दे सकता है। इसके साथ इस कंपाउड का इस्तेमाल व संदिग्ध गतिविधियों में लगा सकता है।



Read More
Source Link

Related Stories